IGMC में प्रशासन की लापरवाही के चलते सीटी स्कैन मशीन में धमाका, जान बचाकर भागे सभी

  • IGMC में प्रशासन की लापरवाही के चलते सीटी स्कैन मशीन में धमाका, जान बचाकर भागे सभी
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, October 12, 2017-10:42 AM

शिमला: हिमाचल के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी में प्रशासन की लापरवाही के चलते बुधवार को सीटी स्कैन मशीन में धमाका हो गया। सभी कर्मचारी, डॉक्टर और मरीज जान बचाकर भागने लग गए। जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह 11 बजे एक मरीज को सीटी स्कैन के लिए लाया गया। अभी इसका सीटी स्कैन शुरू ही हुआ था कि अस्पताल के रेडियोलॉजी विभाग में स्थापित करोड़ों रुपए की सीटी स्कैन मशीन में अचानक शार्ट सर्किट होने से आग भड़क गई। कर्मचारियों ने मरीज को तुरंत बाहर निकाला। आवाज सुनकर विभाग के अंदर और बाहर अफरातफरी मच गई। अस्पताल प्रबंधन के अनुसार आगजनी की घटना से किसी भी कर्मचारी या मरीज को चोटें नहीं लगी हैं। 


सामने आई अस्पताल प्रशासन की लापरवाही 
इस हादसे ने अस्पताल प्रशासन की पोल खोलकर रख दी है। इस मशीन में काफी दिनों से खराबी आ रही थी लेकिन अस्पताल प्रशासन इसे ठीक नहीं करवा रहा था। बिजली से चलने वाली इस मशीन में करंट लगने की सबसे ज्यादा संभावना रहती है। शार्ट सर्किट के चलते यदि मशीन में करंट दौड़ जाता तो मरीज की जान जा सकती थी। अब प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल में इस तरह की लापरवाही से सवाल उठ रहे हैं। 


अस्पताल में हर रोज 40 से ज्यादा मरीजों का होता है सीटी स्कैन 
अस्पताल में हर रोज करीब 40 मरीजों का सीटी स्कैन होता है। 24 घंटे सीटी स्कैन की सुविधा दी जाती है। यह मशीन लगातार काम करती है। 


 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!