कड़वाहट भुलाकर पाकिस्तानी ‘मिठास’ का हिमाचल ने चखा स्वाद

  • कड़वाहट भुलाकर पाकिस्तानी ‘मिठास’ का हिमाचल ने चखा स्वाद
You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, September 10, 2017-11:50 AM

हमीरपुर: बेशक बॉर्डर पर भारत.पाकिस्तान के रिश्तों में कड़वाहट है पर हमीरपुर पहुंचे आम ने मिठास घोलकर सभी का दिल जीत लिया है। सीमा पार से आया चौसाआम हमीरपुर में हाथोंहाथ बिक रहा है। बड़ा साइज और पीले रंग के साथ-साथ रसीला यह आम बाजार पहुंचते ही छा गया है। हिमाचल में चल रहे सेब सीजन पर इस बार हमीरपुर में यह पाकिस्तान आम भारी पड़ने वाला है। अब लोग इसकी डिमांड कर रहे हैं। हालांकि आम का दाम आम आदमी की पहुंच से बाहर है पर फिर भी इसकी डिमांड बनी हुई है। शहर में यह आम अढ़ाई सौ प्रतिकिलो के हिसाब से बिक रहा है। पड़ोसी मुल्क के मुल्तान इलाके से पहुंचे इस आम की डिमांड इसलिए भी ज्यादा हैए क्योंकि इस बार ऑफ सीजन होने के कारण आम की पैदावार कम हुई है और मार्केट में बाहरी मंडियों से जो आम आया उसका रेट भी 80 और 60 रुपए प्रति किलो से कम नहीं आया। अब आम का सीजन लगभग खत्म हो रहा है। ऐसे में पाकिस्तान के इस चौसा आम के प्रति लोगों की दीवानगी जायज भी है।

ऑफ सीजन में भी धड़ल्ले से बिक रहा अाम
गुरप्रीत सिंह ने बताया कि वह कई सालो से हमीरपुर में फलों की दुकान करते हैं। उनके पास देशी के साथ-साथ विदेशी फलों का अच्छा खासा स्टॉक रहता है। वह बाहरी मंडियों से ही सारा सामान मंगवाते हैं। हमीरपुर में पाकिस्तान के आम की डिमांड है और इसका लाजवाब स्वाद लोगों को आकर्षित करता है। बता दें कि अगस्त महीने में मुल्तान के आम की सप्लाई शुरू हो जाती है और सितंबर तक सीजन रहता है। वही दूसरी ओर दुकान से आम खरीद रहे व्यक्ति ने बताया कि इस आम की हमीरपुर में सबसे त्यादा डिमाड है और यह खाने में भी स्वादिष्ट है। उनहोंने बताया कि वह भी दोकिलो आम अपने घर ले जा रहे है। अब मुल्तान भी आम स्वाद चर्चा और रेट में सुल्तान बन गया है। साथ ही साथ अन्य ऑफ सीजन फल भी हमीरपुर की मार्केट में अपनी धाक जमाए हुए हैं।सहारनपुर व बंगलूर का खरबूजा भी लोगों को खूब भा रहा है। कैलिर्फोनिया का अंगूर थाईलैंड के अमरूद भी लोगों को अपना स्वाद दे रहे हैं। यह सभी ऑफ सीजन फल शहर में धड़ल्ले से बिक रहे हैं।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!