यहां मोमबत्ती के सहारे परीक्षा देने को मजबूर हुए 200 परीक्षार्थी, जानिए क्यों

  • यहां मोमबत्ती के सहारे परीक्षा देने को मजबूर हुए 200 परीक्षार्थी, जानिए क्यों
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, December 12, 2017-6:23 PM

धर्मशाला: धर्मशाला कालेज में मंगलवार को बिजली की व्यवस्था न होने से परीक्षार्थियों ने मोमबत्ती के सहारे परीक्षा दी। जानकारी के अनुसार मंगलवार को इग्रू की एम.ए. व एम.एससी. सहित अन्य की परीक्षा थी। परीक्षा देने के लिए लगभग 200 परीक्षार्थी आए थे लेकिन परीक्षा के दौरान लाइट चली गई। लाइट की व्यवस्था करने के लिए कालेज प्रशासन ने मोमबत्तियों का सहारा लिया। बता दें कि धर्मशाला कालेज प्रदेश के बेहतरीन कालेजों में गिना जाता है लेकिन मोमबत्ती के सहारे परीक्षा देने से यहां की व्यवस्था सवालों के घेरे में आ गई है। कालेज प्रशासन की मानें तो बारिश व टैक्रीकल समस्या के चलते कुछ समय के लिए बिजली नहीं थी, जिसे जल्द ही ठीक करवा दिया गया था।
PunjabKesari
जैनरेटर भी खराब
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद धर्मशाला इकाई प्रधान अतुल पटियाल व शक्ति शर्मा ने बताया कि लाइट जाने के बाद प्रशासन जैनरेटर की व्यवस्था भी नहीं कर पाया क्योंकि जैनरेटर खराब था। उन्होंने बताया कि जैनरेटर को ठीक करने की मांग काफी लंबे समय से की जा रही है लेकिन कालेज प्रशासन ने अभी तक उसे ठीक नहीं करवाया है। यदि जैनरेटर ठीक होता तो मोमबत्ती के सहारे परीक्षा नहीं देनी पड़ती। कार्यकर्ताओं ने जल्द से जल्द जैनरेटर ठीक करवाने की मांग दोहराई है ताकि भविष्य में इस तरह की स्थिति दोबारा पेश न आए।

टैक्रीकल समस्या के कारण बाधित हुए लाइट
धर्मशाला कालेज के प्रिंसीपल सुनील कुमार मेहता ने बताया कि परीक्षा देने के उपरांत कुछ समय के लिए लाइट बाधित हुई थी जोकि टैक्रीकल समस्या के कारण हुई थी जिसे जल्द ही ठीक करवा दिया गया था। धर्मशाला कालेज में विद्यार्थियों को कोई परेशानी पेश न आए जिसके लिए प्रशासन प्रयासरत है।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन