सरकार ने जनता को दी बड़ी राहत, आशियाना बनाने के लिए जेब पर नहीं पड़ेगा ज्यादा बोझ

  • सरकार ने जनता को दी बड़ी राहत, आशियाना बनाने के लिए जेब पर नहीं पड़ेगा ज्यादा बोझ
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, October 12, 2017-4:48 PM

शिमला:हिमाचल में अपना आशियाना बनाने की चाह रखने वालों के लिए एक अच्छी खबर हैं। सरकार के फैसले से अपना आशियाना बनाना अब आसान हो गया हैं। विधानसभा चुनावों से ठीक पहले सीमेंट की कीमतों से परेशान जनता को सरकार ने बड़ी राहत देते हुए कंपनियों को सीमेंट के दाम कम करने के निर्देश दिए हैं। एसीसी और अंबुजा सीमेंट कंपनियों के पदाधिकारियों से एक बैठक के बीच हुई बातचीत के बाद यह सहमति बनी है। इस बैठक में परिवहन मंत्री जीएस बाली और एसीएस तरुण कपूर सहित कई पदाधिकारी शामिल रहे। दरअसल, सीएम वीरभद्र ने इन सभी कंपनियों जल्द से जल्द सीमेंट के दाम कम करने को कहा है। वहीं दूसरी ओर अल्ट्राटेक सीमेंट लिमिटेड के प्रतिनिधियों को भी सीमेंट की दरों में बढ़ोतरी न करने के एेलान दिए।

पड़ोसी राज्यों में सीमेंट का 1बैग 250 रुपए में बिक रहा
गौरतलब है कि बीते दिन एसीसी एवं अंबुजा कंपनियों ने सीमेंट के 5 रुपए दाम बढ़ाए थे। सीमेंट के दाम में उछाल के दौरान आम व्यक्ति के लिए अपने घर का सपना देखना महंगा हो गया था। हिमाचल में एसीसी, अंबुजा और अल्ट्राटेक (जेपी) के प्लांट होने के बावजूद प्रदेशवासियों को सीमेंट महंगी दरों पर मिल रहा था। दरअसल पिछले पांच सालों में सीमेंट के दामों में 50 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी। दाम बढ़ने के कारण बाजार में लोगों को सीमेंट का बैग 360 से 365 रुपए तक मिल रहा था। पड़ोसी राज्यों में सीमेंट का एक बैग 250 रुपए में बिक रहा है। सरकार के इस फैसले के बाद सीमेंट के दाम 5 रुपए तक कम हो सकते हैं। सीमेंट के दामों को लेकर प्रेम कुमार धूमल ने कहा था कि कांग्रेस ने विस चुनाव में वादा किया था कि वह सत्ता में आए तो सीमेंट के दाम कम करेंगे लेकिन यह तो उलटा बढ़ रहे हैं। सरकार को दाम बढ़ाने का कारण जनता के सामने स्पष्ट करना चाहिए।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!