कर्मचारियों व पैंशनरों को CM ने दिया तोहफा, इतने % मिलेगा महंगाई भत्ता

  • कर्मचारियों व पैंशनरों को CM ने दिया तोहफा, इतने % मिलेगा महंगाई भत्ता
You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, August 16, 2017-10:19 PM

रामपुर बुशहर: मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने जिला शिमला के रामपुर में 71वें राज्य स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह की अध्यक्षता करते हुए सरकारी कर्मचारियों व पैंशनधारकों को जनवरी, 2017 से 4 प्रतिशत महंगाई भत्ता देने की घोषणा की। महंगाई भत्ते का भुगतान सितम्बर 2017 के वेतन के साथ माह अक्तूबर 2017 में किया जाएगा। उन्होंने ज्यूरी में राजकीय महाविद्यालय खोलने की भी घोषणा की। उन्होंने अनुबंध कर्मचारियों को 3 वर्ष के कार्यकाल के उपरांत नियमित करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि अनुबंध कर्मचारियों के वेतन ग्रेड-पे को 50 प्रतिशत से 75 प्रतिशत तथा दैनिक भोगियों के वेतन को 150 रुपए से बढ़ाकर 210 रुपए किया गया। इसके अतिरिक्त कर्मचारियों व पैंशनधारकों को अनेक अन्य लाभ भी प्रदान किए गए। उन्होंने कहा कि पी.टी.ए. अध्यापक को भी नियमित करने का कार्य किया जाएगा। 

सरकार के सामने बेरोजगारी था सबसे बड़ा मुद्दा
उन्होंने कहा कि सरकार के सत्ता में आने के समय बेरोजगारी सबसे बड़ा मुद्दा था तथा अपने चुनावी घोषणा पत्र में किए गए वायदों को पूरा करने के लिए राज्य सरकार ने 12वीं या इससे अधिक की शैक्षणिक योग्यता वाले बेरोजगार युवाओं को 1000 रुपए प्रति महीने का बेरोजगारी भत्ता प्रदान किया जबकि दिव्यांग युवाओं को 1500 रुपए प्रति महीने बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को देश के बड़े राज्यों में प्रथम खुला शौचमुक्त राज्य घोषित किया गया। राज्य ने खाद्यान्न उत्पादन में बढ़ौतरी के लिए कृ षि कर्मण्य पुरस्कार भी प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि कम वोल्टेज की समस्या के समाधान के लिए थ्री फेस बिजली उपलब्ध करवाने का कार्य प्रगति पर है तथा प्रदेश में शत-प्रतिशत बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। राज्य के लगभग सभी गांवों के नलों में पेयजल आपूर्ति की जा रही है।

रामपुर पी.जी. कालेज मैदान में फराया तिरंगा
इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने रामपुर पी.जी. कालेज मैदान में तिरंगा फहराया और परेड से सलामी ली। परेड का नेतृत्व परेड कमांडर डा. मोनिका भटुंग आई.पी.एस. ने किया जो हिमाचल के लाहौल-स्पीति की रहने वाली है। प्रदेश के लोगों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें बड़े संघर्ष के उपरांत स्वतंत्रता मिली है तथा हम उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों व देशवासियों को नमन करते हैं, जिन्होंने स्वतंत्रता के लिए अपनी जानें न्यौछावर कीं। इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक प्रस्तुति देने वाले प्रतिभागियों व अन्यों को पुरस्कार वितरित किए।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!