सीबीआई ने महासू के बानकुफर में डाला डेरा

  • सीबीआई ने महासू के बानकुफर में डाला डेरा
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, November 14, 2017-9:20 PM

शिमला : गुडिय़ा मर्डर और रेप केस में सीबीआई से दोबारा महासू और बानकुफर में डेरा डाल दिया है। सीबीआई की टीम ने लोगों से पूछताछ की है। सीबीआई ने कोटखाई पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए छह आरोपियों में से दो से पूछताछ की है। टीम को कुछ साक्ष्य मिलने के बाद यह पूछताछ का सिलसिला चल पड़ा। सीबीआई के डीआईजी ने टीम के साथ बानकुफर में डेरा डाला हुआ है। एसआईटी के मुखिया एसपी रैंक के अफसर भी जांच में उनके साथ हैं। टीम ने राजू और सुभाष से पूछताछ की। सीबीआई ने शाम के वक्त दोनों आरोपियों से पूछताछ की।

ये है मामला
शिमला जिला के कोटखाई में हुए गैंगरेप व हत्या मामले की शिकार गुडिय़ा की हत्या 4 जुलाई को ही कर दी गई थी। फारेंसिक विशेषज्ञों के मुताबिक हत्या के बाद ही गुडिय़ा के शव को जंगल में फेंक दिया गया था। ये खुलासा अभी तक हुई फारेंसिक जांच में हुआ है। विशेषज्ञों के मुताबिक स्थानीय लोगों और पुलिस के दावों के विपरीत गुडिय़ा के शरीर पर मक्खियों के लाखों अंडे पाए गए थे। इसके अलावा गुडिय़ा के कपड़ों से लिए गए नमूनों से भी ये साबित हो रहा था।

आठ अफसर लिए हैं हिरासत में 
शिमला के गुडिय़ा गैंगरेप एंड मर्डर केस में सीबीआई ने हिमाचल पुलिस के आठ बड़े अफसरों को गिरफ्तार किया है। ये अफसर उस एसआईटी का हिस्सा थे जिसे इस मामले की जांच के लिए बनाया गया था। लेकिन अब पूरी एसआईटी ही जेल की सलाखों के पीछे चली गई। इनमें एक अफसर ऐसा है जिसकी गिरफ्तारी से सबसे ज्यादा हड़कंप मचा हुआ था।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!