विपक्ष के आरोपों पर बोले बंबर, कैमिस्टों व डाक्टरों के बीच गोरखधंधे का करूंगा पर्दाफाश

  • विपक्ष के आरोपों पर बोले बंबर, कैमिस्टों व डाक्टरों के बीच गोरखधंधे का करूंगा पर्दाफाश
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, January 10, 2017-9:32 PM

बिलासपुर: क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में दिव्यांगता बढ़ाने के लिए सदर विधायक व हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. जसबीर सिंह के बीच मोबाइल फोन पर हुई बातचीत के सोशल मीडिया पर वायरल हो जाने के बाद जिला में राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई हैं। विपक्ष द्वारा इस मामले को लेकर सदर विधायक बंबर ठाकुर पर लगाए जा रहे आरोपों का जवाब देने के लिए अब सदर विधायक ने खुद कमान संभाल ली है। इसी कड़ी के चलते मंगलवार को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर मुख्य बस अड्डा के बाहर भारतीय जनता पार्टी का पुतला फूंका तथा भाजपा के विरुद्ध जमकर नारेबाजी भी की। 

अस्पताल में कैमिस्ट कर रहे मोटी कमाई
प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए सदर विधायक बंबर ठाकुर ने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल में भाजपा व कांग्रेस के कुछ नेताओं के संरक्षण में क्षेत्रीय अस्पताल के 3 डाक्टर लोगों को अस्पताल क्षेत्र में स्थित 2 निजी दुकानों से कथित तौर पर दवाइयां खरीदने के लिए मजबूर कर रहे हैं। हालांकि यह सभी दवाइयां क्षेत्रीय अस्पताल में मौजूद हैं। उन्होंने बताया कि कथित सब स्टैंडर्ड की दवाइयों के कारण यह कैमिस्ट मोटी कमाई रहे हैं और इसी कमाई से इन दोनों कैमिस्टों ने एक डाक्टर को एक गाड़ी भी खरीदकर भेंट की है। 

कमीशन के चक्कर में कैमिस्टों के पास भेजे जा रहे लोग
बंबर ठाकुर ने बताया कि प्रदेश सरकार ने लोगों को क्षेत्रीय अस्पताल सहित अन्य चिकित्सा संस्थानों में मुफ्त में दवाइयां उपलब्ध करवाने के लिए 2 करोड़ रुपए मूल्य की दवाइयां उपलब्ध करवाई हैं बावजूद इसके कुछ डाक्टर कथित कमीशन कमाने के लिए लोगों को कैमिस्टों की दुकानों से कथित सब स्टैंडर्ड की दवाइयां लिखकर दे रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि वह सदर विधानसभा क्षेत्र में कैमिस्टों व डाक्टरों के बीच चल रहे इस कथित गोरखधंधे को नहीं चलने देंगे तथा इसका पर्दाफाश करके रहेंगे। इसके लिए शीघ्र ही जिला में जनजागरण अभियान चलाया जाएगा। 

रणधीर शर्मा कर रहे कैमिस्टों का बचाव
बंबर ठाकुर ने कहा कि श्री नयनादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के विधायक रणधीर शर्मा इन कैमिस्टों को बचाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने भाजपा से जानना चाहा है कि क्या वह लोगों को अस्पताल में मुफ्त दवाइयां उपलब्ध करवाने के पक्ष में हैं या नहीं। इस बारे में भाजपा नेता अपनी स्थिति स्पष्ट करें। उन्होंने बताया कि अस्पताल क्षेत्र में स्थित दवाइयों की दुकानें किसी और के नाम पर हैं जबकि इन पर कोई और बैठ रहा है जबकि नियमानुसार संबंधित कैमिस्ट का दुकान पर बैठना अनिवार्य है। बंबर ठाकुर ने कहा कि क्षेत्रीय अस्पताल परिसर में एक दुकान का एग्रीमैंट वर्ष 2014 में समाप्त हो गया है बावजूद इसके यहां पर दवाइयां बेची जा रही हैं।

चिकित्सा अधिकारी संबंधित दुकानों पर करें छापेमारी
डा. जसबीर के साथ फोन पर हुई बातचीत पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि उन्होंने किसी को भी नहीं धमकाया है। डाक्टर खुद यहां पर काम नहीं करना चाहता है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री, ड्रग कंट्रोलर व मुख्य चिकित्सा अधिकारी से संबंधित दुकानों पर छापेमारी कर यहां बेची जा रही सब स्टैंडर्ड दवाइयों तथा डाक्टरों व कैमिस्टों के बीच चल रहे कथित गोरखधंधे पर कार्रवाई करने की वकालत की है। 

डाक्टर का हो स्थानांतरण
मोहरसिंघी पंचायत के प्रधान जगदीश ने हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. जसबीर पर कई संगीन आरोप लगाए। उन्होंने इस डाक्टर पर 30 मई, 2015 को राष्ट्रीय हैंडबाल खिलाड़ी मिनिका व  9 जुलाई, 2016 को हैंडबाल खिलाड़ी शैलजा के अंगूठे पर गलत प्लास्टर चढ़ाने और 27 दिसम्बर, 2016 को हैंडबाल खिलाड़ी शालिनी को विटामिन डी की कमी व डाइट के बारे में गलत बताने का आरोप लगाया है। उन्होंने इस डाक्टर को यहां से स्थानांतरण करने की मांग की है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You