Subscribe Now!

हिमाचल के बस अड्डों में अवैध गतिविधियों पर लगेगी लगाम, तीसरी आंख का रहेगा पहरा

  • हिमाचल के बस अड्डों में अवैध गतिविधियों पर लगेगी लगाम, तीसरी आंख का रहेगा पहरा
You Are HereHimachal Pradesh
Friday, January 19, 2018-1:28 AM

शिमला: हिमाचल प्रदेश में एच.आर.टी.सी. व बी.एस.एम.डी. द्वारा बनाए गए सभी बस अड्डों पर अब तीसरी आंख की नजर रहेगी। प्रदेश भर के सभी बस अड्डों पर बी.एस.एम.डी. द्वारा सी.सी.टी.वी. कैमरे स्थापित कर दिए गए हैं। लोगों की सुरक्षा को देखते हुए निगम के मुख्य बस अड्डों पर ये कैमरे लगाए गए हैं। पी.पी.पी. मोड पर बन रहे बस अड्डों पर हालांकि ये कैमरे अभी नहीं लगाए गए हैं जिनमें ऊना और चिंतपूर्णी बस अड्डों को छोड़ कर अन्य सभी बस अड्डों पर अब यात्रियों पर तीसरी आंख का कड़ा पहरा रहेगा। 

28 बस अड्डों पर स्थापित किए कैमरे
प्रदेश भर में निगम के 28 बस अड्डों पर ये कैमरे स्थापित किए गए हैं। राजधानी शिमला में एच.आर.टी.सी. के पुराने बस अड्डे सहित आई.एस.बी.टी. न्यू बस अड्डे पर भी ये कैमरे लगाए गए हैं। महिलाओं की सुरक्षा को देखते हुए अब कैमरों के माध्यम से शातिर एवं शरारती तत्वों पर नजर रखी जाएगी। इसके साथ ही बस अड्डों पर बढ़तीं चोरी की घटनाओं को मद्देजनर इन सी.सी.टी.वी. कैमरों को लगाया गया है।

निगम की वर्कशॉप में भी स्थापित होंगे सी.सी.टी.वी.
प्रदेश भर में बस अड्डों के साथ ही अब निगम की वर्कशॉप में भी सी.सी.टी.वी. कैमरे स्थापित किए जाएंगे। वर्कशॉप में करोड़ों रुपए की सम्पदा के चलते उनकी सुरक्षा के मद्देनजर इन कैमरों को स्थापित करने की योजना है। आने वाले समय में इस संंबंध में बी.एस.एम.डी. द्वारा कार्य शुरू किया जाएगा।

बस अड्डों पर छेडख़ानी से मिलेगी निजात
प्रदेश भर में निगम के बस अड्डों पर कालेज जाने वाली लड़कियों को छेडऩे की शिकायतें मिलती रहती थीं। बस अड्डों पर खड़े मजनू लड़कियों को परेशान करते थे, ऐसे में पूर्व सरकार के  समय ही बस अड्डों पर सी.सी.टी.वी. कैमरों को स्थापित करने को लेकर निर्णय लिया गया था, अब प्रदेश भर में ये कैमरे स्थापित किए गए हैं।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन