Subscribe Now!

Watch Video: टूटने की कगार पर आखिरी पुल, बरसात में कौन पार लगाएगा नैया ?

You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, January 16, 2018-3:11 PM

मंडी (नीरज): मंडी जिला मुख्यालय के साथ लगती ग्राम पंचायत बाड़ी गुमाणू का एक पुल टूट चुका है जबकि दूसरा टूटने की कगार पर नजर आ रहा है। बाड़ी गुमाणू पंचायत के तहत आने वाले अरठी नाले पर बना पुल पिछले दिनों देखते ही देखते ध्वस्त हो गया। गनीमत यह रही कि पुल पर से कोई वाहन नहीं गुजर रहा था अन्यथा कोई भी बड़ा हादसा हो सकता था। यह पुल 15 साल पुराना है और इसने इस बात का संकेत दे दिया कि और भी ऐसे पुल हैं जो हादसे को न्यौता दे सकते हैं। अब बात इसी पंचायत के उस पुल की करते हैं जो बीते करीब 20 वर्षों से लोहे और लकड़ी के सहारे अस्थाई तौर पर वाहनों का भार ढो रहा है। 
PunjabKesari

यह पुल गरूडनाला पर बना है। पहले यहां कंकरीट का पुल था लेकिन वर्ष 1998 में यह पुल भयंकर बारिश की भेंट चढ़ गया। उस वक्त यहां आवाजाही के लिए लोहे और लकड़ी का एक अस्थायी पुल लगा दिया गया। 20 वर्ष बीत जाने के बाद भी यहां कोई स्थाई पुल बनाने की विभाग ने नहीं सोची। आज इस पुल की हालत भी दयनीय हो गई है। ग्राम पंचायत बाड़ी गुमाणू के प्रधान लाभ सिंह ने बताया कि पुल से भारी-भरकम वाहन गुजरते हैं। यहां आए दिन हादसों का अंदेशा बना रहता है। उन्होंने बताया कि लोगों की मजबूरी है कि इस पुल से सफर करना पड़ रहा है क्योंकि जिला मुख्यालय तक पहुंचने का यही इकलौता रास्ता ग्रामीणों के पास है।
PunjabKesari

पंचायत प्रधान की मानें तो बरसात से पहले इसका स्थायी समाधान होना बेहद जरूरी है। यदि ऐसा नहीं हुआ तो फिर बरसात के दिनों में लोगों को और भी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं जब इस बारे में लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता जगेश वैद्य से बात की गई तो उन्होंने बताया कि अरठी नाला के पास टूटी पुलिया का फिर से निर्माण करवाने के लिए एस्टीमेट बनाया जा रहा है। इसके बनने के बाद धन स्वीकृत होते ही पुलिया का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।  
PunjabKesari


 
 


 


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन