बाली-अनिल शर्मा के बीच बढ़ी नजदीकियां, सुखराम के घर में लगे भविष्य के CM के नारे

  • बाली-अनिल शर्मा के बीच बढ़ी नजदीकियां, सुखराम के घर में लगे भविष्य के CM के नारे
You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, September 12, 2017-1:49 PM

मंडी (नीरज): एक तरफ सीएम वीरभद्र सिंह संगठन में बदलाव की जद्दोजहद में जुटे हुए हैं और दूसरी तरफ कार्यकर्ताओं ने अगले सीएम के रूप में किसी और को चुनने का मन बनाना शुरू कर दिया है। इन दिनों परिवहन मंत्री जीएस बाली का नाम सीएम पद के दावेदारों में माना जा रहा है। सोमवार शाम को जब परिवहन मंत्री सदर विधानसभा क्षेत्र के कोटली गांव पहुंचे तो यहां उनका स्वागत सीएम के नारों के साथ हुआ। ’’भविष्य का सीएम कैसा हो, सीएम बाली जैसा हो, पंडित सुखराम जिंदाबाज, अनिल शर्मा जिंदाबाद’’ इस प्रकार के नारे कुछ कार्यकर्ताओं ने दोनों मंत्रियों के समक्ष लगाए।


अनिल शर्मा बोले, हमने पार्टी छोड़ी नहीं थी निकाला गया था
बताया जाता है कि सदर विधानसभा क्षेत्र पूर्व केंद्रीय संचार राज्य मंत्री पंडित सुखराम की कर्मभूमि रही है और कोटली में ही उनका पैतृक निवास भी है। इन दिनों उनके सपुत्र यानी अनिल शर्मा उनकी राजनीतिक विरासत को संभाल रहे हैं। पिछले दिनों वीरभद्र सिंह और पंडित सुखराम जब लंबे समय के बाद एक मंच पर इकट्ठा हुए थे तो वीरभद्र पंडित सुखराम को आया राम-गया राम कहा था। इस बात का दर्द अभी तक अनिल शर्मा के दिल में छलक रहा है। उन्होंने कहा कि पंडित सुखराम आया राम-गया राम नहीं है। हमें पार्टी से निकाला गया था हमने कभी पार्टी नहीं छोड़ी। अपनी पार्टी बनाई और भाजपा के साथ गठबंधन करके प्रदेश में सरकार बनाई।


बाली ने इशारों ही इशारों में वीरभद्र पर साधा निशाना
वहीं जब बाली के संबोधन की बारी आई तो उन्होंने भी पंडित सुखराम की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े। बाली ने भी इशारों ही इशारों में वीरभद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि शरीर पर लगा जख्म तो भर जाता है लेकिन जुबान से निकला जख्म भरने में वक्त लेता है। उन्होंने कहा कि पंडित सुखराम सभी के लिए सम्मानिय नेता हैं। हालांकि जो कार्यक्रम कोटली में हुआ है उसमें पहले सीएम ने ही आना था, लेकिन सीएम ने बाद में आने से इनकार कर दिया, इसलिए इस कार्यक्रम में बाली को बतौर मुख्य अतिथि बुलाया गया। सीएम की सदर से हो रही दूरियों के कई मायने निकाले जा रहे हैं और साथ ही यहां पर बाली के पक्ष में सीएम की नारेबाजी के भी।


 


 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !