चुनावी समर में कांग्रेस को एक और झटका, पूर्व विधायक का परिवार भाजपा में शामिल

  • चुनावी समर में कांग्रेस को एक और झटका, पूर्व विधायक का परिवार भाजपा में शामिल
You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, October 22, 2017-5:50 PM

नाहन: चुनावी समर के आगाज में ही भाजपा प्रत्याशी डा. राजीव बिंदल ने कांग्रेस को झटका दे दिया है जिसका फायदा अब चुनाव में भाजपा को मिलेगा। रविवार को क्षेत्र के पूर्व विधायक रहे स्वर्गीय सदानंद चौहान के परिवार ने डा. राजीव बिंदल की मौजूदगी में अपने सैंकड़ों समर्थकों के साथ भाजपा का दामन थाम लिया। भाजपा में शामिल होने वालों में स्वर्गीय चौहान की पत्नी लीला चौहान, बेटा नितिन चौहान टिंकू, पूर्व विधायक की बेटी (नगर परिषद की पूर्व अध्यक्ष) भारती अग्रवाल व नलिनी चौहान तथा स्वर्गीय सदानंद चौहान के बड़े भाई प्रताप सिंह चौहान शामिल हैं। 

डा. बिंदल के साथ मिलकर करेंगे काम : नितिन चौहान
गौरतलब है कि पूर्व में नितिन चौहान व भारती अग्रवाल कांग्रेस में शामिल हुए थे। अब उन्होंने डा. राजीव बिंदल की नीतियों में विश्वास करते हुए और शहर के  विकास कार्यों को परवान चढ़ाने के लिए भाजपा का दामन थामा है। इस मौके पर नितिन चौहान ने कहा कि वह अब भाजपा में डा. बिंदल के साथ मिलकर विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्यों में सहयोग करेंगे। उन्होंने अपने समर्थकों से आह्वान किया कि वे चुनावी समर में एकजुट होकर बिंदल को सफल बनाएं।

कांग्रेस सरकार ने जानबूझ कर अनदेखा किया : विनय गुप्ता
इस मौके पर जिला परिषद सदस्य विनय गुप्ता ने कहा कि 5 साल में कांग्रेस सरकार ने विधानसभा क्षेत्र को जानबूझ कर अनदेखा किया है। मतदाताओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। कांग्रेस के तमाम नेताओं ने सत्ता में रहकर अपना स्वार्थ साधा है। जनता के लिए कुछ नहीं किया। चुनाव में ऐसे नेताओं को जनता माफ नहीं करेगी। इस अवसर पर विशाल तोमर, दिनेश अग्रवाल, नीरज चौहान, ललित शर्मा, अभिषेक चौधरी व सौरव चौहान आदि उपस्थित थे।

कांग्रेस कहीं की नहीं रहेगी : बिंदल
वहीं बिंदल ने सदानंद परिवार का स्वागत करते हुए कहा कि स्वर्गीय सदानंद चौहान लोक जनशक्ति पार्टी के टिकट पर नाहन विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थे। स्वर्गीय चौहान ने बतौर विधायक जहां आम आदमी की आवाज को उठाया तो क्षेत्र की समस्याओं को निपटाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इस चुनाव में कांग्रेस कहीं की भी नहीं रहेगी। सरकार का रिपीट होना तो दूर की बात है जिला सिरमौर समेत प्रदेश में कांग्रेस के प्रत्याशियों को जीतने के लाले पड़ेंगे।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!