टिकटों के ऐलान में कांग्रेस ने बाजी मारी, BJP के योद्धा तय नहीं

  • टिकटों के ऐलान में कांग्रेस ने बाजी मारी, BJP के योद्धा तय नहीं
You Are HereHimachal Pradesh
Wednesday, October 18, 2017-2:35 PM

धर्मशाला: टिकटों के ऐलान में कांग्रेस ने बाजी मारते हुए अपने योद्धा मैदान में उतार दिए हैं, वहीं बीजेपी में अभी टिकटों का पेंच फंसा हुआ है। ऐसे में प्रदेश में टिकट कटने की अटकलों के बीच कई जगह घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस ने 62 सीटों पर अपने प्रत्याशी फाइनल कर दिए हैं जबकि 6 विधानसभा क्षेत्रों को लेकर 2-2 चेहरों का पैनल तैयार किए जाने की सूचना है।धर्मशाला व झंडूता के बाद पालमपुर, सोलन व कुसुम्पटी में भी बगावती सुर तेज हो गए हैं, ऐसे में पार्टी की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पार्टी के कई नेताओं ने इस बात पर आपत्ति उठाई है कि जिन लोगों का नाम सर्वे में न होने के बावजूद उनके नाम से टिकट कैसे? उधर, सोलन बीजेपी मंडल में भी बैठक हुई जिसमें चर्चा हुई कि पार्टी के आला नेताओं ने कहा कि टिकट सर्वे के आधार पर दिया जाएगा लेकिन जब किसी का नाम सर्वे में आया ही नहीं उसे टिकट कैसे दिया जा सकता है। 


बीजेपी की सारी कवायदें फेल होती हुईं नजर आ रही
नैना देवी से चंडीगढ़ होते हुए दिल्ली तक की गई बीजेपी की सारी कवायदें फेल होती हुईं नजर आ रही हैं, ऐसे में सवाल उठता है कि पार्टी में काहे का संगठन, काहे की कवायद और कौन से सर्वे हुए हैं। टिकटार्थियों सहित पार्टी से जुड़े लोग और जनता हर रोज प्रत्याशियों के ऐलान का इंतजार कर रही है लेकिन पार्टी में मचा घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। हालत यह है कि कुछ क्षेत्रों में जिन महिलाओं का नाम तक पैनल में नहीं था और जो सर्वे में कहीं अपना स्थान तक दर्ज नहीं कर पाई थीं उन्हें एडजैस्ट करने के चक्कर में पार्टी की सारी कवायद फेल होती हुई नजर आ रही है, ऐसे में सवाल यह भी है कि खुद को अनुशासित संगठनात्मक पार्टी होने का दावा करने वाली बीजेपी कहां खड़ी होती है। अभी टिकटें घोषित होने के बाद क्या हालात होते हैं यह भी पार्टी के लिए चुनौती से कम नहीं।


कार्यकर्ता भी असमंजस में
चुनाव लड़ने में कार्यकर्ता भी असमंजस में हैं। न नेता के नाम का ऐलान और न चुनाव लड़ने वालों का कोई अता-पता है। अब जबकि नामांकन भरने को भी कुछ दिन बचे हैं, ऐसे में टिकटों का ऐलान न होना बड़ा सवाल बना हुआ है। जो पार्टी खुद को कांग्रेस से ज्यादा आगे बढ़ने का दावा कर रही थी वह अब पिछड़ती हुई नजर आ रही है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!