Subscribe Now!

Watch Video: 5 ब्लॉक कमेटियां भंग, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुक्खू ने की बड़ी कार्रवाई

You Are HereHimachal Pradesh
Tuesday, January 23, 2018-11:24 AM

शिमला: हिमाचल कांग्रेस की 5 ब्लॉक कमेटियों को भंग कर दिया गया है। इनमें ब्लॉक कांग्रेस कमेटी धर्मशाला, धर्मशाला शहरी, घुमारवीं, कंडाघाट व शिमला ग्रामीण शामिल हैं। पार्टी की इस बड़ी कार्रवाई से सभी हैरत में पड़ गए हैं। सूचना के अनुसार कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने उक्त कमेटियां स्थानीय नेताओं, विधायकों व विस चुनाव में पार्टी के अधिकृत उम्मीदवारों की सिफारिश पर भंग की हैं। आने वाले दिनों में कुछ अन्य ब्लॉक कमेटियों पर भी यह गाज गिर सकती है। उल्लेखनीय है कि धर्मशाला व धर्मशाला शहरी ब्लाक कांग्रेस कमेटी धर्मशाला हलके में आती है। यहां से पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा विस चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार थे।


धर्मशाला को स्मार्ट सिटी व प्रदेश की दूसरी राजधानी घोषित करवाने के बावजूद सुधीर शर्मा को विस चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा है। वह इन घोषणाओं से लोगों को नहीं लुभा सके। ऐसे में माना जा रहा है कि सुधीर को मिली हार की गाज उक्त कमेटियों पर गिरी है। इसी तरह कांग्रेस ने घुमारवीं से राजेश धर्माणी को चुनाव मैदान में उतारा था लेकिन उन्हें भी चुनावों में स्थानीय लोगों ने नकार दिया, ऐसे में पार्टी ने स्थानीय नेताओं व पार्टी प्रत्याशी के आग्रह पर घुमारवीं ब्लॉक कांग्रेस को भी भंग करने का निर्णय लिया है।


जल्द ही होगा पुनर्गठन 
शिमला ग्रामीण से कांगे्रस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने माना कि ब्लॉक कमेटी को भंग करने के लिए उन्होंने पार्टी अध्यक्ष से आग्रह किया था। उन्होंने कहा कि जल्द ही कमेटी का पुनर्गठन किया जाएगा और इसमें नए चेहरों को आगे आने का मौका दिया जाएगा। वहीं प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के चेयरमैन नरेश चौहान ने कहा कि 5 कमेटियों को भंग किया गया है। उन्होंने कहा कि स्थानीय नेताओं के आग्रह पर पार्टी अध्यक्ष ने यह निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि जल्द ही कमेटियों का पुनर्गठन कर दिया जाएगा।


जीत के बाद भी कर डालीं कमेटियां भंग
कंडाघाट ब्लॉक कांग्रेस कमेटी सोलन हलके में आती है तथा शिमला ग्रामीण ब्लॉक कांग्रेस कमेटी जिला के विभिन्न हलकों से संबंध रखती है। देखा जाए तो हाल ही में हुए विस चुनाव में सोलन से कांग्रेस उम्मीदवार कर्नल धनीराम शांडिल व शिमला ग्रामीण विस क्षेत्र से पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के पुत्र विक्रमादित्य सिंह चुनाव जीतने में कामयाब रहे। ऐसे में माना जा रहा है कि स्थानीय विधायक अपनी पसंद की नई कमेटी बनाना चाहते हैं, यही कारण है कि उन्होंने पार्टी अध्यक्ष ने ब्लाक कमेटियों को भंग करने का आग्रह किया है।


कमेटियों को भंग करने का क्रम जारी
विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद प्रदेश कांग्रेस में ब्लॉक कमेटियों के भंग करने का क्रम जारी है। अभी तक पार्टी में दर्जन से अधिक ब्लॉक कमेटियों को भंग किया जा चुका है। अभी तक कुछ जिला कमेटियों पर गाज गिर चुकी है और आने वाले दिनों में भी कुछ अन्य कमेटियों पर गाज गिर सकती है। पार्टी की इस कार्रवाई को लोकसभा चुनाव के लिए सशक्त टीम गठित करने से जोड़ कर भी देखा जा रहा है।


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन