Watch Video : शिमला में 5 बीघा जमीन पर काट डाले 400 हरे पेड़, वन मंत्री ने किया दौरा

You Are HereHimachal Pradesh
Sunday, January 14, 2018-5:08 PM

शिमला: राजधानी शिमला में एक एेसा मामला सामने आया है। जहां एक व्यक्ति अफसरों के नाक तले 5 बीघा जमीन से 400 हरे पेड़ काट कर ले गया। मामला राजधानी से सटी कोटी फॉरेस्ट रेंज में हुआ है। बताया जाता है कि यहां काफी समय से सरकारी और निजी भूमि पर धड़ल्ले से अवैध कटान चल रहा था। जानकारी के मुताबुिक इस अवैध कटान की सूचना मिलते ही शुक्रवार को वन विभाग के कर्मचारी पुलिस टीम को लेकर मौके पर पहुंचे। इस टीम को देवदार, चीड़ और बान के करीब 400 ठूंठ बरामद हुए हैं। पुलिस ने आरोपी भूप राम के घर से देवदार के 150 स्लीपर और बोरियों में भरा कोयला भी बरामद किया है। इस अवैध कटान को लेकर वन मंत्री ने इसका दौरा किया है। बताया जा रहा है कि जमीन की निशानदेही के बाद आरोपी पर कार्रवाई की जाएगी। आरोपी का कहना है कि क्रशर लगाने के लिए लंबे समय से अवैध कटान कर रहा था। उसने अपनी जमीन से पेड़ काटे हैं, जबकि वन विभाग का दावा है कि अधिकतर जमीन सरकारी है।

लकड़ी और कोयलों का अवैध कारोबार कर रहा था
पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, अब इस जमीन की पैमाइश करवाई जा रही है। शिमला ग्रामीण के डीएफओ अमित शर्मा कहा बिना किसी की अनुमति से पेड़ों का अवैध कटान करके इमारती लकड़ी और कोयलों का अवैध कारोबार कर रहा था। मौके पर पहुंच कर लकड़ी और कोयला सीज कर लिया है। पुलिस विभाग को सूचित कर दिया है। वहीं डीएसपी शिमला दिनेश ने बताया कि बान और चीड़ के पेड़ों को काटने के बाद कोयला बना दिया गया और देवदार के स्लीपर बनाए गए।  फिलहाल पुलिस को शक है कि लकड़ी की तस्करी हुई है पुलिस और वन महकमे ने निशानदेही के लिए राजस्व विभाग को अर्जी दे दी है।  


अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन