34 साल में इस अफसर ने कभी नहीं ली Medical Leave, अब मिलेगा राष्ट्रपति अवॉर्ड

  • 34 साल में इस अफसर ने कभी नहीं ली Medical Leave, अब मिलेगा राष्ट्रपति अवॉर्ड
You Are HereHimachal Pradesh
Thursday, August 17, 2017-9:54 AM

सोलन (चिनमय): अगर मन में कुछ कर दिखाने का जज्बा और जुनून हो तो परिस्थितियां कैसी भी हो, हौसले से राह निकल ही आती है। यह कहावत सोलन होमगार्ड विभाग में तैनात कमांडेंट के.एस. झोहटा पर सटीक बैठती है। कमांडेंट झोहटा को सरकार द्वारा उनके बेहतरीन कार्यकाल को देखते हुए उन्हें राष्ट्रपति अवॉर्ड के लिए चुना गया है, जिसके चलते सोलन और होमगार्ड कार्यालय में खुशी का माहौल है।
PunjabKesari

34 सालों के कार्यकाल में कभी नहीं ली मैडिकल लीव
कमांडेंट ने नागरिक सुरक्षा एवम गृह रक्षा विभाग में 4 नवंबर 1982 से अपने करियर की शुरुआत की और तब से लेकर आज तक उन्होंने अपने कार्य को कर्तव्य निष्ठा व ईमानदारी के साथ किया। झोहटा ने बताया कि अपने 34 सालों के कार्यकाल में उन्होंने कभी मैडिकल लीव नहीं ली। उन्होंने कहा कि उन्होंने कभी अपनी समस्याओं को सर्वोपरि नहीं समझा, बल्कि समस्याओं को छोड़कर अपने कार्य को कर्तव्यनिष्ठा से करते रहे और कई मर्तबा तीन बटालियनों को संभाला लेकिन कभी किसी में कोई भेदभाव नहीं किया।  


सफलता की सीढ़ी चढ़ कर राष्ट्रपति अवॉर्ड के काबिल बने
झोहटा ने बताया कि उन्होंने अपने कायकाल में काफी संघर्ष किया और खेल स्पर्धाओं में भाग लेने के साथ साथ वह 26 जनवरी को दिल्ली परेड में भी भाग ले चुके हैं। उन्होंने बताया कि हमेशा अपने उच्च अधिकारिओं से उन्होंने जो सीखा वही अपने अधिकारिओं व कर्मचारीयों को सिखाने की भी कोशिश की। कमांडेंट ने वर्तमान में आने वाले सभी अधिकारिओं व कर्मचारीयों को संदेश दिया कि यदि वह अपने जीवन में किसी भी कार्य को मेहनत लगन व सच्चाई से करते हैं तो जिन्दगी की दौड़ में कभी पीछे नहीं रहेंगे। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय अपने सभी अधिकारियों, साथियों और कर्मचारियों को दिया। इन सभी के प्रयास से आज वह सफलता की सीढ़ी चढ़ पाए और राष्ट्रपति अवॉर्ड के काबिल बन पाए है। 


 


 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !